Morning Coffee Tips with No Side Effect in HindiMorning Coffee Tips with No Side Effect in Hindi

Morning Coffee Side-Effect: कॉफी को लेकर बहस सदियों से चली आ रही है। दुनिया भर में लोकप्रिय पेय, कॉफी एक ऐसा पहलू है जो विवादों के लिए जाना जाता है। इसमें मौजूद कैफीन तत्व ही है जो सुबह के समय कई बहसों का कारण होता है। यदि आप बिना किसी परेशानी के इस कॉफी का आनंद लेना चाहते हैं, तो आपके लिए BehtarHealth की तरफ से हमने एक उपयोगी लेख तैयार किया है, जिसका शीर्षक है “wellhealthorganic.com: Morning Coffee Tips with No Side Effect” जिसमें आपको सुबह की कॉफी पीने के उपयोगी सुझाव मिलेंगे

आप में से ज्यादातर लोग सुबह की शुरुआत एक कप कॉफी के बिना नहीं कर सकते हैं। हालांकि, बहुत से लोगों को इसके साथ मिलने वाले विशेष प्रभावों के लिए इसका सेवन करना पड़ता है, जिनके साथ कुछ दुष्प्रभाव भी आते हैं – जैसे कॉफी की गंध, घबराहट, एसिडिटी या दोपहर के करीब अचानक ऊर्जा का बढ़ना।

Wellhealthorganic.com: Morning Coffee Tips with No Side Effect

क्या बात जानते है एक औसत कप कॉफी में लगभग 95 मिलीग्राम कैफीन होता है। इस कैफीन के कारण ही हमारे शरीर को स्वास्थ्य सम्बंधित समस्या का सामना करना पड़ जाता है। अगर रेगुलर कॉफ़ी पीते है तो हमारे शरीर को इसकी आदत हो जाती है। जिसके कारण अगर कॉफ़ी छोडना चाहे तो भी नहीं छोड़ सकते है क्योंकि सिर दर्द करने लग जाता है। इसलिए हम Morning Coffee Tips With No Side Effect मतलब बिना किसी दुष्प्रभाव के सुबह की कॉफी पीने की टिप्स बतायेगे। जिससे आप खुद को हेल्दी रख सकते है। कॉफ़ी छोड़ कर और क्या पी सकते है उसकी बात करेंगे। मॉर्निंग कॉफ़ी पीने से क्या साइड इफ़ेक्ट होंगे वो देखेंगे। तो शुरू करते है।

कॉफी को समझना

आपको कॉफ़ी का सेवन करने के नियमों से अवगत कराने से पहले, यह समझना आवश्यक होगा कि अवांछित दुष्प्रभाव कहाँ से आते हैं। कॉफी, मुख्य रूप से उत्तेजक कैफीन, हृदय गति को बढ़ाता है, सतर्कता को बढ़ाता है और अक्सर चिंता, नींद की समस्या और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल रोगों को शुरू करता है। नाजुक ऊतक एसिडिटी और स्ट्रांग कॉफी से जल्दी कमजोर हो जाते हैं। इसके लिए हमें अपनी सुबह की कॉफी की आदत को अपनी स्वास्थ्य आदतों के अनुकूल बनाना होगा।

ऑर्गेनिक कॉफी चुनें

अपने कॉफी के अनुभव को बिना किसी दुष्प्रभाव के महत्वपूर्ण रूप से प्रभावित करने के लिए प्राथमिक सुझाव आर्गेनिक कॉफी चुनना है। जैविक कॉफी कृत्रिम कीटनाशकों और उर्वरकों के बिना उगाई जाती है।

सुबह की कॉफी: इसे बिना किसी साइड इफेक्ट के कैसे पिया जाए (Morning Coffee Tips with No Side Effect in Hindi)

जब आप अपनी ऑर्गेनिक कॉफी के साथ तैयार हों, तो कॉफी का आनंद बिना किसी साइड इफ़ेक्ट के लेने के लिए कई सुझावों का पालन करना चाहिए।

कैफीन की मात्रा और समय

चूंकि अधिकांश दुष्प्रभाव अत्यधिक कैफीन सेवन से उत्पन्न होते हैं, इसलिए आपको इसकी मात्रा को नियंत्रित करना चाहिए। एक औसत कप कॉफी में लगभग 95 मिलीग्राम कैफीन होता है। यदि आप घबराहट और अन्य दुष्प्रभाव महसूस कर रहे हैं, तो कम स्ट्रांग कॉफी पीने पर विचार करें। इसके अलावा, सुबह सबसे पहले कैफीन पीने से आपकी अम्लता बढ़ सकती है और असुविधा हो सकती है। इसलिए, इसे अपने पेट पर इसके प्रभाव को कम करने के लिए अपने भोजन के साथ या बाद में पीने की सलाह दी जाती है। कॉफी में कुछ मूत्रवर्धक गुण होते हैं, इसलिए इससे बार-बार पेशाब आ सकता है और कुछ डिहाइड्रेशन हो सकता है। पूरे दिन पर्याप्त मात्रा में हाइड्रेशन महत्वपूर्ण है।

दालचीनी डालें

यदि आप अपनी कॉफी में मीठा पसंद करते हैं, तो सादे चीनी के बजाय थोड़ी सी दालचीनी डालें। इसका अपना एक मीठा स्वाद होता है और यह सुनिश्चित करता है कि कैफीन की मात्रा बढ़ने के बाद आपका ब्लड शुगर लेवल कम नहीं होगा।

कॉफी पीने का सबसे अच्छा समय

चाहे आप मानें या ना मानें, सुबह कॉफी पीना इस बात पर निर्भर करता है कि आपका शरीर इस पर कैसे प्रतिक्रिया करता है। सुबह के समय, शरीर में कॉर्टिसोल का स्तर सबसे अधिक होता है, जो तनाव के लिए जिम्मेदार हार्मोन है। नतीजतन, जब आप कॉफी पीते हैं, तब भी आपका कॉर्टिसोल का स्तर ऊंचा होता है, तो इससे कॉफी से जुड़ी परेशानियों का खतरा बढ़ जाता है।

तो फिर कॉफी पीने का सबसे अच्छा समय कब है?

अध्ययनों से पता चला है कि सुबह के मध्य और दोपहर की शुरुआत में कॉर्टिसोल का स्तर सबसे कम होता है। इसलिए यह समय कॉफ़ी पीने का सही समय माना जाता है।

सुबह की शुरुआत पानी से करें

कॉफी पीने से पहले एक गिलास पानी पिएं। पानी आंतों के एसिड को बेअसर करने में मदद करता है जो पाचन संबंधी परेशानियों को रोकता है। यह आपके शरीर को चयापचय प्रक्रिया को शुरू करने में भी मदद करता है।

खाली पेट Morning Coffee पीने के Side Effect

कभी-कभी आप सुबह की कॉफी (Morning Coffee) के बिना अपना दिन शुरू नहीं करना चाहते हैं। हालांकि, विशेषज्ञों का दावा है कि सुबह की कॉफी (Morning Coffee) पीने से डिहाइड्रेशन और आंत की समस्याओं (Gut Problems) जैसी कई स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकता है। लेकिन क्या इसका मतलब है कि कोई अपनी सुबह की कॉफी को एक बार में छोड़ सकता है? खासकर सुबह में दुष्प्रभावों से बचने के लिए।

यह भी पढ़ें – Well Health Tips in Hindi Wellhealthorganic: अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए हैं

अपच (Indigestion) हो सकता ।

जब हम सुबह खाली पेट उठते है तब हमारे शरीर में इम्पोर्टेन्ट एसिड और एंजाइम निकलते है जो पाचन क्रिया को सही रखने में मदद करते है। हालांकि, यह मेटाबोलिक सिस्टम को काम करने के लिए आवश्यक एसिड और एंजाइम बनाने से नहीं रोकता है। कॉफी सिर्फ प्रक्रिया को तेज करता है और अतिरिक्त मात्रा में रिलीज करता है। इससे सूजन, कब्ज और मेटाबॉलिक दर धीमी हो सकती है।

तनाव (Stress) हो सकता ।

हर रोज सुबह-सुबह कॉफ़ी पीने से मेन्टल हेल्थ पर बहुत बुरा असर डालता है। कॉफ़ी में पाया जाने वाला कैफीन हार्मोन्स दिमाग पर सीधा प्रभाव डालने के लिए जाना जाता है। इसलिए, यह शरीर में तनाव पैदा कर सकता है और आपको चिड़चिड़ा महसूस करा सकता है।

डिहाइड्रेशन हो सकता

अगर आप खाली पेट जरूरत से ज्यादा Morning Coffee पी लेते है। या फिर दिन भर में 5 से 6 बार बार कॉफ़ी पीने से यह आपके शरीर के लिए नुकसानदायक हो सकता है। इसमें मौजूद कैफीन के कारण आपको बार-बार यूरिन पास करना पडता है। जिस कारण आपके शरीर में पानी की कमी आ जाती है। यह भी कहे सकते है कि यह शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स को असंतुलित कर देता है जिस कारण डिहाइड्रेशन महसूस होता है।

Morning Coffee से ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता

जब भी मॉर्निंग कॉफ़ी पीते है तो आप इसमें शुगर भी मिलाते है। वैसे भी आर्टिफीसियल शुगर नेचुरल शुगर से बहुत ज्यादा हानिकारक होता है। जब आप कॉफ़ी को मीठा करने के लिए इसमें चीनी डालते है तो वैसे भी यह नुकसान पहुँचता है। लेकिन जब कॉफ़ी में शुगर दोनों को साथ में लिया जाता है जब यह हमारे ब्लड में तेजी से शुगर के लेवल को बढ़ा देता है। जो बहुत ही हानिकारक है।

Morning Coffee पीने के अन्य Side-Effect – Morning Coffee Side-Effect

  • दिल से सम्बंधित बीमारियों का खतरा बना रहता है।
  • कोलेस्ट्रॉल के लेवल में बढ़ोतरी हो सकती है।
  • टाइप 2 डायबिटीज का खतरा बना रहता है।
  • कॉफ़ी पीने के कुछ समय बाद थकान महसूस हो सकती है।
  • कई बार कॉफ़ी पीने से हड्डियों में तकलीफ भी हो जाती है।
  • गैस की समस्या हो सकती है।

निष्कर्ष (Conclusion)

अंत में और अधिक ऑर्गेनिक कॉफी, एडिटिव्स और बनाने की विधियों को अपनाने में संकोच न करें। कॉफी की दुनिया विविध और रोमांचक है, और आपको सुबह को हेल्दी करने के लिए बिना किसी साइड इफेक्ट के नए स्वाद और तकनीक मिल सकती हैं। अपनी कॉफी का आनंद लें और याद रखें कि जागरूक दृष्टिकोण ही बिना किसी दुष्प्रभाव के अनुभव का समाधान है।

By KOUSHAL KHANDAL

I am a content writer with almost 10 years of experience. I have been associated with Dr. Anil Kumar Sharma & Dr. Surendra Kumar Sharma for the last 6 years. Due to the family legacy and interest in Ayurveda, I started writing content based on Ayurveda under the guidance and proofreading of both doctors.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *