Khas Sharbat: गर्मी को मात देने के लिए एक प्राकृतिक शीतल पेय

By KOUSHAL KHANDAL #how to make khas ka sharbat, #how to make khus sharbat, #kese bnaye khas ka sharbat, #khas ka sharbat, #khas khas ka sharbat, #khas ki sharbat recipe, #khas sharbat, #khas sharbat in summers, #khas sharbat ke fayde, #khas sharbat recipe, #khas sharbat recipe by nisha madhulika, #khas sharbat recipe by rasoi ghar, #khas sharbat recipe in hindi, #khus ka sharbat, #khus khus ka sharbat, #khus sharbat, #khus sharbat recipe, #खस का शरबत, #खस का शरबत इस तरह से बनाए, #खस का शरबत कैसे बनाए रेसिपी इन हिन्दी, #खस का शरबत घर पर बनाने का अनोखा तरीका, #खस का शरबत घर पर बनाने का तरीका, #खस का शरबत बनाने की रेसिपी, #खस का शरबत बनाने की विधि, #खस का शर्बत, #खस की जड़, #खस की जड़ से बनाएं खस्रस का शरबत, #खस के फायदे, #खस क्या है, #खस शरबत, #खसखस का शरबत, #घर पर ही बनाकर तैयार करे खस का शरबत, #घर में खस का शरबत कैसे बनाएं, #बाजार जैसा खस का शरबत घर में कैसे बनाएं
Khas Sharbat: गर्मी को मात देने के लिए एक प्राकृतिक शीतल पेयKhas Sharbat: गर्मी को मात देने के लिए एक प्राकृतिक शीतल पेय

Khas Sharbat: हेलो दोस्तों आज हम बात करेंगे खस के शरबत के बारे में क्योंकि गर्मी तेजी से बढ़ रही है और इस चिलचिलाती धुप में खुद को हाइड्रेट रखना भी जरुरी है। क्योकि पानी की कमी की वजह से आप डिहाईड्रेशन के शिकार हो सकते है, जो ऐसी गर्मी के मौसम में ज्यादा से ज्यादा पानी पीने की सलाह दी जाती है।

लेकिन बढ़ती गर्मी एवं धुप में सिर्फ पानी ही कारगर साबित नहीं होता है। इसलिए हमारे लिए जरुरी है की हम कुछ ऐसे पेय जल को भी अपनी दिनचर्या में हम शामिल कर सकते है जो की शरीर के साथ – साथ दिमाग को भी ठंडक दे सके। और शरीर को हाइड्रेट रख सके। तो हम आपको बताने जा रहे है खस के शरबत के बारे में।

खस का शरबत क्या है ? (What is Khus Sharbat?)

What is Khus Sharbat

खस का प्रयोग भारत में खूब किया जाता है। खस की जड़ काफी महँगी आती है। और खस का शरबत एक प्रकार का प्राकृतिक शरबत होता है जो की खस की जड़ों से बनता है। खस एक प्रकार से घास की प्रजाति है। यह हरे रंग का होता है। और यह खुसबूदार घास होती है। जिसका भारत में हज़ारो सालो से प्रयोग किया जा रहा है। इसका कारण है, खस में कुछ ख़ास तरह के आयुर्वेदिक गुण होते है। इसके अलावा गर्मी से बचाव के लिए भी खस का प्रयोग किया जाता है।

Note: खस को अंग्रेजी (English) में वेटीवर (Vetiver) कहते है।

प्राचीन समय में खस का प्रयोग चटाई या परदे बनाने में किया जाता था जिससे की गर्मियों में अच्छी खुशबू के साथ ठंडी हवा मिल सके, इसका प्रयोग लू से बचने के लिए किया जाता था। एवं खस का प्रयोग तेल निकालने, इत्र, परफ्यूम, शरबत, दवाइयां, साबुन आदि बनाने में प्रयोग किया जाता है।

खस की तासीर ठंडी होती है। जिसकी वजह से खस का प्रयोग गर्मियों में खस का शरबत बनाने में किया जाता है। खस का शरबत गर्मियों कि कई समस्याओं से निजात दिलाता है। यह शरबत पीने से प्यास बुझती है। शरीर में महसूस होने वाली जलन दूर होती है। दिमाग और शरीर में तरावट आती है।

स्किन प्रॉब्लम में खस का शरबत पीने से फायदा होता है। एवं खस का प्रयोग ह्रदय रोग, स्किन रोग, बुखार, पेशाब की जलन इत्यादि में किया जाता है।

खस शरबत बनाने की विधि (How to make Khas Sharbat)?

खस का शरबत बनाने के लिए निम्नलिखित सामग्री और विधि इस प्रकार से है :-

सामग्री:

चीनी 200 ग्राम

पानी 1 लीटर

खस की जड़ें 100 ग्राम

नींबू का रस स्वादानुसार

बर्फ के टुकड़े

विधि:

1. सबसे पहले आप एक कढ़ाई ले। और उसमे 1 लीटर पानी उबाले।
2. जब पानी उबलने लगे , उसमे धूली हुई खस की जड़ें डालें।
3. और खस की जड़ों को धीमी आंच पर उबलने दे।
4. जब पानी आधा हो जाए, तो इसे ढककर हटाएँ और उसे ठंडा होने दे।
5. फिर एक अलग से पतीला ले।
5. छलनी की सहायता से पानी को पतीले में छाने।
6. छने हुए पानी में चीनी मिलाएं और अच्छी तरह से मिलाएं जब तक चीनी घुल नहीं जाएं।
7. इस शरबत को ठंडा होने के लिए फ्रीज़ में रखे।
8. ठंडा होने के बाद सभी को परोसें और ठंडा पीने का आनन्द लें।

यह विधि खस के शरबत को तैयार करने के लिए है, और आप चाहो तो स्वाद के लिए निम्बू का रस या अन्य स्वादानुसार परिवर्तन कर सकते है।

खस शरबत के कुछ प्रसिद्ध और अच्छे ब्रांड (Some famous and good brands of Khas Sharbat)

आजकल एकल परिवार की संस्कृति है, इसलिए घर पर सब चीजे बनाना संभव नहीं है, घर पर ना बना पाए तो बाजार में बहुत से अच्छे ब्रांडो के खस के शरबत उपलब्ध है, उन्हें लाकर भी उनका सेवन किया जा सकता है।
खस के शरबत के कुछ प्रसिद्ध और अच्छे ब्रांड निम्नलिखित है :-

  • गुरूजी का खस शरबत
  • पतंजलि खस शरबत
  • डाबर खस शरबत
  • बैद्यनाथ खस शरबत
  • हमदर्द खस शरबत
  • हल्दीराम खस शरबत
  • श्रीजी का खस शरबत

उपरोक्त सूची में कुछ प्रमुख ब्रांडों का उल्लेख है, जिन्हें आप खस शरबत (Khus Sharbat) की खरीदारी के लिए विचार कर सकते हैं।

Also Read – Bael Juice: बेल का जूस पीने के फायदे जो आपको हैरान कर देंगे!

खस के शरबत का सेवन करने के फायदे (Benefits of consuming Khas Sharbat)

इसका सेवन कई स्वास्थ्यवर्धक लाभ प्रदान करता है। इसके कुछ प्रमुख फायदे :-

  • ठंडा करने का असर :- खस के शरबत में ठंडक देने वाले गुण होते है। जो की शरीर को ठंडक देता है और शारीरिक ताजगी को बढ़ावा देता है।
  • प्यास कम करना :- खस का शरबत बार -बार लगने वाली प्यास को काफी हद तक कम करता है।
  • हाइड्रेटेड का कार्य :- खस का शरबत शरीर को डिहाईड्रेशन होने से बचाता है।
  • इम्युनिटी को बढ़ावा देता है :- खस का शरबत पीने से इम्युनिटी को बढ़ावा मिलता है। और शरीर को रिफ्रेश करता है। शरीर की ताजगी और ताकत को बढ़ावा देता है।
  • पाचन सम्बन्धी समस्या को ठीक करने का कार्य :- खस का शरबत पाचन क्रिया को सुधारता है और आंतों को शांति प्रदान करता है।
  • पेट सम्बन्धी समस्या को ठीक करने का कार्य :- खस का शरबत पेट की सफाई करता है और कब्ज को दूर करता है।
  • मानसिक स्वास्थ संबंधी बीमारी ठीक करना :- खस का शरबत पीने से दिमाग को मिलती है, और यह मानसिक चिंता और तनाव को कम करता है, और मन को शांति प्रदान करता है।

खस का इस्तेमाल किस मौसम में करना हमारे लिए होता है बेहतर (In which season is it better for us to use poppy seeds?)

वैसे तो खस के फायदे अनगिनत है और खस के फायदो के बारे में हमने बताया है की इसके कितने फायदे है। खस के औषधीय गुणों के कारण पुरे साल कभी भी इसका इस्तेमाल करने की जरुरत पड़ सकती है।

आयुर्वेदिक चिकित्सक ” डॉ. अनिल कुमार शर्मा ” के अनुसार खस का प्रभाव ठंडा होने के कारण इसका सेवन गर्मी के मौसम में करना ज्यादा फायदेमंद बताया है। क्योंकि गर्मियों के मौसम में खस का शरबत बनाया जाता है। और इसकी तासीर ठंडी होने के कारण शरीर को ठंडक देता है।

सर्दी के मौसम या मानसून में खस के सेवन से बचना चाहिए। क्योंकि सर्दी में खस के सेवन से झुकाम या सर्दी वाली शिकायत हो सकती है। तो हमे सर्दी में इसका सेवन चिकित्सक से सलाह लेकर के ही करना चाहिए।

खस शरबत में पाए जाने वाले पोषक तत्व (Nutrients found in Khas Sharbat) –

इसमें विभिन्न प्रकार के पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो की आपके शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं। जो की इस प्रकार से है –

  • खस ग्रास में रेज़ीन
  • विटामिन C
  • आयरन
  • फाइबर
  • कैल्शियम
  • मैग्नीशियम
  • फॉस्फोरस
  • पोटैशियम
  • सोडियम

खस के शरबत का सेवन करने का तरीका (Method of consuming Khas Sharbat)

खस के शरबत का सेवन आप दिन के किसी भी समय में कर सकते है, लेकिन इसका सबसे अच्छा परिणाम सुबह या दिन के पहले भाग में करने से होता है। यह सुबह के समय आपको ऊर्जा और ताजगी प्रदान करता है और आपको दिनभर की गर्मी और तेज धुप के लिए तैयार रखता है।

वैसे तो, गर्मियों में खस के शरबत का सेवन करना सबसे अच्छा होता है, जिससे आपका शरीर ठंडा और ताजगी से भर जाता है। खासकर गर्म दिनों में, खस के शरबत का सेवन आपको ठंडा और राहत प्रदान कर सकता है।

लेकिन अगर आपके किसी खास समय पर खस के शरबत का सेवन करने की आदत है, तो आप उसी समय पर भी इसे पी सकते हैं।

महत्वपूर्ण है कि आप अपने संबंधित परिस्थितियों और आवश्यकताओं के अनुसार खस के शरबत का सेवन करें।

और अगर आप किसी विशेष चिकित्सा समस्या या बीमारी का सामना कर रहे हैं, तो सबसे अच्छा होगा कि आप अपने डॉक्टर से सलाह कर के इसका सेवन करें ।

आशा करता हूँ यह जानकारी आपके लिए बहुत लाभप्रद रहेगी। अगर आपको लगता यह जानकारी आपके और आपके मिलने वालो के लिए लाभप्रद है तो आप इसे उनसे शेयर जरूर करें।

“मैं आपके अच्छे स्वास्थ और उज्जवल भविष्य की कामना करता हूँ। “

मार्गदर्शन : डॉ. अनिल कुमार शर्मा (आयुर्वेदिक चिकित्सक)

By KOUSHAL KHANDAL

I am a content writer with almost 10 years of experience. I have been associated with Dr. Anil Kumar Sharma & Dr. Surendra Kumar Sharma for the last 6 years. Due to the family legacy and interest in Ayurveda, I started writing content based on Ayurveda under the guidance and proofreading of both doctors.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *