Amrood Ke Beej Khane Ke NuksanAmrood Ke Beej Khane Ke Nuksan

नमस्कार दोस्तों, आज हम अमरूद के बीज खाने से होने वाले नुकसान (Amrood Ke Beej Khane Ke Nuksan) के बारे में देखेगे। जैसा की आप सब जानते है अमरूद साल में दो बार उगाए जाते है और हमें सर्दी और गर्मी दोनों समय अमरुद को खा सकते है। अमरुद को लोगो द्वारा अलग-अलग तरीके से खाया जाता है। कुछ लोग अमरूद को सीधे ही खाते है, कुछ लोग अमरूद से बीज निकाल के खाते है, और कुछ लोगो द्वारा अमरूद को पानी में गर्म करके खाते है। कुछ लोगो में Amrood Ke Beej Khane Ke Nuksan को लेकर भ्रान्ति फैली है कि अमरूद की बीज खाने से पथरी हो जाती है, अमरूद के बीज किडनी में जाके अटक जाते है, अपेंडिक्स की प्रॉब्लम हो सकती है या पेट से संबधित कोई बीमारी हो जाती है। क्या वास्तव में Amrood Ke Beej Khane Ke Nuksan होते है, चलिए आगे देखेते है।

अमरूद में पाए जाने वाले पोषक तत्व

अमरूद में प्रोटीन, फाइबर, सोडियम, पोटेशियम, आयरन, विटामिन सी, विटामिन के, विटामिन बी – 6, फोलेट, नियासिन, कैल्शियम, ज़िंक, काब्रोहाइड्रेट, कॉपर, एंटीडायबिटिक, एंटीमाइक्रोबियल, एंटीफंगल जैसे बहुत सारे पोषक तत्व पाए जाते है। (स्रोत : U.S. Department of Agriculture के अनुसार)। अमरूद के बीजों में घुलनशील फाइबर और पेक्टिन नामक पोषक तत्व होता है, जो पेट में घुल जाता है।

दोस्तों अमरूद को बीज के साथ खाने में किसी प्रकार का कोई नुकसान नहीं होता है। बल्कि यह आपके शरीर के लिए फायदेमंद ही होता है। अगर आप अमरूद को बिना बीज के खाते है तो जो आपको पोषक तत्व मिलने चाहिए वो नहीं मिल पाते है। लेकिन कुछ ऐसी कंडीशन होती है जब अमरूद और अमरूद के बीज खाने से नुकसान होता है, जिसके बारे में हम नीचे चर्चा करेंगे।

नोट: किसी भी चीज़ की अधिकता हमारे और हमारे शरीर के लिए हानिकारक होती है। इसलिए जिन चीजों का इस्तेमाल सीमा में रहकर किया जाए वो ज्यादा फायदेमंद होती हैं।

अमरूद के बीज खाने के नुकसान – Amrood Ke Beej Khane Ke Nuksan

दोस्तों अमरूद के बीज खाने से कोई साइड इफेक्ट (Side Effects of Eating Guava Seeds) नहीं होता है। यह हानिरहित और खाने योग्य है, लेकिन खाने से पहले कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए।

  • जिन लोगों को पाचन संबंधी समस्या हो उन्हें अमरूद और अमरूद के बीज नहीं खाने चाहिए।
  • बहुत छोटे बच्चों को अमरूद के बीज खिलाने से बचना चाहिए क्योंकि अमरूद के बीज सख्त होते हैं और बच्चे उन्हें आसानी से चबा नहीं पाते हैं। कभी-कभी यह छोटे बच्चों की गर्दन में भी फंस सकता है।
  • जिन लोगों को बीजों से एलर्जी है उन्हें भी अमरूद के बीज नहीं खाने चाहिए। डॉक्टर की सलाह जरूर लेवें
  • जो लोग शुगर लेवल कम करने के लिए दवाइयां लेते हैं उन्हें अमरूद और अमरूद के बीज का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • जो लोग डायरिया से पीड़ित हैं उन्हें अमरूद खाने से बचना चाहिए। क्योंकि अमरूद में फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता है।
  • जिन लोगों के दांत खराब हैं उन्हें अमरूद के बीजों से परहेज करना चाहिए।

नोट: सर्जरी या कोई बीमारी होने पर डॉक्टर की सलाह के बाद ही अमरूद का सेवन करना चाहिए।

यह भी पढ़िए – Amrud Khane Ke Fayde: स्वास्थ्य के लिए वरदान

By KOUSHAL KHANDAL

I am a content writer with almost 10 years of experience. I have been associated with Dr. Anil Kumar Sharma & Dr. Surendra Kumar Sharma for the last 6 years. Due to the family legacy and interest in Ayurveda, I started writing content based on Ayurveda under the guidance and proofreading of both doctors.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *